प्रशासन

ईद और गंगा दशहरा एक साथ:सतर्क उत्तर प्रदेश सरकार

राजेश बैरागी (वरिष्ठ पत्रकार)

क्या बदले राजनीतिक माहौल में इस बार गंगा दशहरा और ईद के आगामी त्योहारों के दृष्टिगत उत्तर प्रदेश में विशेष सतर्कता बरती जा रही है? राज्य के सभी जनपदों में पुलिस प्रशासन एक दिन आगे पीछे आ रहे इन त्योहारों पर शांति बनाए रखने के लिए दोनों धर्मों के जिम्मेदार लोगों के साथ संवाद करने में जुटे हैं।
हालांकि त्योहारों के दृष्टिगत धर्मगुरुओं और जिम्मेदार सामाजिक लोगों के साथ पुलिस प्रशासन द्वारा शांति व्यवस्था के लिए बैठक किए जाने की परंपरा कोई नई नहीं है। हमेशा दीपावली,ईद आदि त्योहारों से पहले इस प्रकार की बैठकें की जाती हैं। खासतौर पर हिंदु मुस्लिम समुदायों के त्योहार एक ही दिन या आगे पीछे पड़ने पर शांति बैठकों का आयोजन अति आवश्यक हो जाता है। इससे किसी भी संभावित टकराव से बचने और त्योहारों को मेलजोल तथा आपसी सौहार्द से मनाने के लिए माहौल तैयार किया जाता है। परंतु पिछले कुछ सालों से राज्य में भाजपा की सरकार होने के कारण ऐसी बैठकों की आवश्यकता समाप्त हो गई थी और त्योहारों पर किसी प्रकार के टकराव की संभावना भी नहीं रहती थी।हाल ही में लोकसभा चुनाव संपन्न हुए हैं। इस चुनाव में भाजपा से अधिक सीटें समाजवादी पार्टी को मिली हैं। बदले राजनीतिक माहौल में आगामी 17 जून को मुस्लिम समुदाय का बकरीद या ईद उल अजहा का महत्वपूर्ण त्योहार है। इससे एक दिन पहले हिंदुओं का महत्वपूर्ण त्योहार गंगा दशहरा है। सूत्रों के अनुसार सरकार के निर्देश पर राज्य में इस अवसर पर किसी भी प्रकार की अप्रिय स्थिति से बचने के लिए समूचे उत्तर प्रदेश में प्रत्येक जनपद स्तर पर पुलिस और प्रशासन द्वारा दोनों समुदायों के धर्मगुरुओं और महत्वपूर्ण लोगों के साथ बैठकें की जा रही हैं।कल गुरूवार को गौतमबुद्धनगर जनपद में पुलिस और प्रशासन ने ऐसी ही एक महत्वपूर्ण बैठक का आयोजन किया। पुलिस कमिश्नरेट मुख्यालय सेक्टर 108, नोएडा में हुई इस बैठक को जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा व पुलिस आयुक्त लक्ष्मी सिंह ने संबोधित किया। बैठक में हिंदू मुस्लिम समुदाय के धर्म गुरुओं के साथ साथ ग्राम प्रधान आदि महत्वपूर्ण लोग भी बुलाए गए थे।इन सभी लोगों से पुलिस प्रशासन के शीर्ष अधिकारियों ने त्योहारों पर न केवल शांति बनाए रखने की अपील की बल्कि उनसे उनके क्षेत्र में शांति व्यवस्था संबंधी फीडबैक भी लिया। इसके साथ ही उन्हें बताया गया कि गड़बड़ी करने वाले लोगों के साथ पुलिस प्रशासन कोई नरमी नहीं बरतेगा,

Related Articles

Back to top button