बुलन्दशहर

बाल बाल बचे एक दर्जन से अधिक मासूम बच्चे

ई रिक्शा कींचड फिसलन पानी भरे गड्ढे में पलटी, स्कूल से घर लौट रहे थे मासूम

औरंगाबाद( बुलंदशहर ) एक दर्जन से अधिक स्कूली बच्चे उस समय बाल बाल बचे जब स्कूली बच्चों से लदी ई रिक्शा गढ्ढे में पलट गई। ई रिक्शा पलटते ही गन्दे पानी कींचड में जा गिरे बच्चों की चीख-पुकार सुनकर मौहल्ले वालों ने तथा साथी स्कूली बच्चों शिक्षकों ने दौड़ कर बच्चों को बाहर निकाला और सुरक्षित उनके घरों पर पहुंचाया। घटना से अभिभावकों में रोष व्याप्त है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार दोपहर लगभग डेढ़ बजे एन पी एस पब्लिक स्कूल में पढ़ने वाले पांच से पंद्रह साल आयु वर्ग के बारह से पंद्रह बच्चे एक ई रिक्शा में अपने घर वापस लौट रहे थे। ई रिक्शा चालक कृष्ण पाल सिंह चला रहा था।प्राचीन नागेश्वर मंदिर की बगल में रास्ते में पानी भरने के कारण वाहनों को सरस्वती शिशु मंदिर के सामने के रास्ते से होकर गुजरना पड़ता है। इस रास्ते पर पाइप लाइन के ठेकेदार की लापरवाही के चलते जगह जगह कींचड फिसलन गढ्ढे हो रहे हैं और उनमें भी बरसात का पानी भरा हुआ था। अचानक बच्चों से लदी रिक्शा एक गढृढे में पहिया आ जाने से पलट गई और उसमें लदे बच्चे जमीन पर लुढ़क गए। बच्चों की चीख-पुकार सुनकर मौहल्ले वालों ने और स्कूली बच्चों शिक्षकों ने दौड़ कर बच्चों को बाहर निकाला और सुरक्षित उनके घरों पर पहुंचाया। संयोग वश किसी बच्चे को गंभीर चोट नहीं आई और दर्जन भर बच्चे बाल बाल बच गए।

अभिभावकों में घटना से रोष व्याप्त है और उन्होंने अविलंब इस रास्ते को ठीक कराने की मांग शासन प्रशासन से की है जिससे भविष्य में ऐसे हादसे की पुनरावृत्ति को समय रहते रोका जा सके। गिरे बच्चों में मिशबा सैफी,महक मलिक,असद मलिक जैद मलिक, आर्यन सैफी आदि शामिल रहे।

रिपोर्टर राजेंद्र अग्रवाल

Related Articles

Back to top button