बुलन्दशहर

सार्वजनिक स्थानों पर नहीं करें कुर्बानी, बक़रीद और गंगा दशहरा पर्व शांति और सद्भाव पूर्वक मनाने की अपील

औरंगाबाद (बुलंदशहर ) ईदुल अजहा और गंगा दशहरा पर्व के मद्देनजर गुरुवार शाम थाना परिसर में हिंदू मुस्लिम संप्रदायों के गणमान्य लोगों की बैठक बुलाई गई।

बैठक में थाना प्रभारी विनोद कुमार ने कहा कि कस्बे के भाईचारे की मिसाल पूरे जिले भर में हमेशा से कायम रही है। इसको आगे भी इसी तरह कायम रखा जाना चाहिए।

बकरीद पर्व पर सार्वजनिक स्थानों पर कुर्बानी नहीं की जायेगी तथा प्रतिबंधित पशुओं की कुर्बानी किसी भी सूरत में नहीं की जाये अन्यथा कठोर कानूनी कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि पर्व की खुशियां मनाते समय एक दूसरे की भावनाओं को ठेस नहीं पहुंचे इसका ध्यान सभी को रखना है। ईद की नमाज ईदगाह और मस्जिदों के अंदर पढ़ें। सड़क पर नमाज पढ़ने से गुरेज करें।

बैठक में मौजूद विद्युत अधिकारी को पर्व पर विद्युत आपूर्ति सुचारू करने और नगर पंचायत के लिपिक किशोरी लाल को जलापूर्ति सुचारू करने के लिए निर्देशित किया गया तथा कुर्बानी के पश्चात अवशेषों को काली पालिथीन से ढक कर ले जाने और समुचित रूप से गढ्ढे में दबाने के लिए भी निर्देश दिए गए।

इस अवसर पर सभी मस्जिदों के इमाम साहब,कारी शेर मोहम्मद, वरिष्ठ समाजसेवी कैलाश कुमार अग्रवाल,नितिन सिंघल हेमंत गुप्ता अब्दुल्ला कुरैशी, वकील अहमद सभासद, शहाजुद्दीन मेवाती, इकलाख कुरैशी उर्फ़ सूका सभासद, रामलीला कमेटी अध्यक्ष योगेश कुमार अग्रवाल, नितिन वर्मा, एस एस आई मुनेंद्र कुमार, इंस्पेक्टर क्राइम इशाक हुसैन, कस्बा चौकी इंचार्ज विनोद कुमार अहलावत हैडकांस्टेबल सतेंद्र कुमार सिंह गौरव कुमार महीपाल सिंह आदि सैकड़ों लोग मौजूद रहे,

रिपोर्टर राजेंद्र अग्रवाल

Back to top button