टेक्नोलॉजी

आपकी आँखों में टोसिस है या नहीं स्वयं कैसे जाने  – जाँच करना सीखे डॉ सुमित्रा से (टोसिस – भाग २ )

Ptosis  आंख की ऊपरी पलक के गिरने को कहते हैं।

Ptosis (पलक गिरने) की पहचान करने के लिए आप निम्नलिखित तरीकों का उपयोग कर सकते हैं:

आइने में देखना: सीधा खड़े होकर आइने में अपनी आंखों को ध्यान से देखें। यदि एक पलक दूसरी पलकों की तुलना में कम दिख रही है या एक आंख का ऊपरी हिस्सा ढका हुआ है, तो यह ptosis का संकेत हो सकता है।

फोटो की तुलना: अपने चेहरे की पुरानी और नई तस्वीरों की तुलना करें। यदि हाल की तस्वीरों में एक पलक स्पष्ट रूप से गिरी हुई दिख रही है, तो यह ptosis का संकेत हो सकता है।

दृष्टि पर प्रभाव: ध्यान दें कि क्या आपकी दृष्टि पर कोई असर पड़ रहा है। यदि गिरती हुई पलक आपकी दृष्टि को बाधित कर रही है, तो यह ptosis का लक्षण हो सकता है।

थकान महसूस होना: दिन के अंत में या थकान महसूस होने पर ध्यान दें कि क्या आपकी पलकें अधिक गिरती हैं। कुछ मामलों में, ptosis अधिक स्पष्ट हो सकता है जब मांसपेशियाँ थकी हुई हों।

दूसरों की टिप्पणियाँ: कभी-कभी परिवार के सदस्य या दोस्त इस स्थिति को आपसे पहले देख सकते हैं। उनकी टिप्पणियों पर भी ध्यान दें।

आंखों के साथ समस्याएं: यदि आपको अपनी आंखों में किसी प्रकार की असामान्यता महसूस हो रही है, जैसे आंख खोलने में कठिनाई या भारीपन महसूस होना, तो यह ptosis का संकेत हो सकता है।

डॉक्टर से परामर्श:यदि आप खुद में ptosis के कोई संकेत देखते हैं, तो आंख विशेषज्ञ से परामर्श लेना सबसे अच्छा होगा। डॉक्टर निम्नलिखित तरीकों से ptosis की पुष्टि कर सकते हैं:

शारीरिक परीक्षण: डॉक्टर आपकी आंखों और पलकों का विस्तृत परीक्षण करेंगे।

प्रभावित क्षेत्र की माप: डॉक्टर आपकी पलकों की ऊँचाई माप सकते हैं और यह देख सकते हैं कि कौन सी पलक अधिक गिरी हुई है।

दृष्टि परीक्षण: यह देखने के लिए कि आपकी दृष्टि पर कितना प्रभाव पड़ा है।

तंत्रिका और मांसपेशी परीक्षण: यह देखने के लिए कि क्या कोई न्यूरोलॉजिकल समस्या है।

न्य टेस्ट: कुछ मामलों में, MRI या CT स्कैन जैसे अतिरिक्त टेस्ट की आवश्यकता हो सकती है।

Back to top button