प्रशासन

नोएडा प्राधिकरण:कार्रवाई के लिए डीएम को चिट्ठी परंतु उद्घाटन की विज्ञप्ति में डीएम का नाम नहीं

राजेश बैरागी( स्वतंत्र पत्रकार व लेखक)
नोएडा प्राधिकरण की दो विज्ञप्तियों ने आज विशेष तौर पर ध्यान आकर्षित किया। एक विज्ञप्ति नगर में दो स्थानों पर आम जनता को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए स्थापित किए गए आर ओ प्लांट आधारित वाटर एटीएम के उद्घाटन से संबंधित थी और दूसरी सेक्टर 153,154,156 में नोटिस जारी होने और एफआईआर दर्ज होने के बावजूद भूजल दोहन कर रहे बिल्डरों के विरुद्ध कार्रवाई करने से संबंधित थी। दोनों ही मामलों में जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर की भूमिका है परंतु पेयजल प्लांट उद्घाटन कार्यक्रम में उपस्थित होने के बावजूद विज्ञप्ति से उनका नाम नदारद है।
नोएडा प्राधिकरण ने गर्मी का पूरा मौसम बीत जाने पर आज दो स्थानों पर क्रमशः सेक्टर 37 स्थित हरिजन बस्ती और सेक्टर 35 स्थित मोरना बस डिपो पर आर ओ प्लांट आधारित शुद्ध पेयजल क्योस्क की स्थापना कर दी।ये दोनों क्योस्क सीएसआर फंड से लगाए गए हैं। इनकी क्षमता एक हजार लीटर (प्रत्येक) प्रति घंटा है। आज इन दोनों प्याऊ का समारोहपूर्वक उद्घाटन प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी लोकेश एम द्वारा किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा विशेष रूप से उपस्थित थे। समारोह के सभी फोटो में जिलाधिकारी दिखाई दे रहे हैं परंतु प्राधिकरण द्वारा जारी विज्ञप्ति में उनका नाम नहीं है। बहरहाल नगर में शुद्ध पेयजल के ये क्योस्क संचालित होने से आम जनता, रिक्शा ऑटो चालक और आगंतुकों को बहुत राहत मिलने की उम्मीद है। एक अन्य विज्ञप्ति नोएडा प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी द्वारा जिलाधिकारी को लिखे गए पत्र के रूप में है। इसमें सेक्टर 153,154 व सेक्टर 156 में पांच बिल्डरों द्वारा उन्हें आवंटित भूखंडों से नियम विरुद्ध भूजल दोहन करने तथा उनके विरुद्ध की गई कार्रवाई का वर्णन है। इनमें ऐस ग्रुप प्लॉट नं 107 सेक्टर 153,यूनिएक्सल व प्रीकास्ट इंफ्रास्ट्रक्चर प्राईवेट लिमिटेड के विरुद्ध भूगर्भ जल अधिनियम 2019 के अध्याय 8 की धारा 39(1) के तहत की गई अर्थदंड की कार्रवाई पर अमल कराने की मांग जिलाधिकारी से की गई है। उल्लेखनीय है कि सेक्टर 153,154 व 156 में पांच बिल्डरों के विरुद्ध भूगर्भ जल दोहन के मामले में प्राधिकरण और भूगर्भ जल विभाग द्वारा कार्रवाई की गई है। इनके विरुद्ध थाना नॉलेज पार्क ग्रेटर नोएडा में एफआईआर भी दर्ज कराई गई है,

Related Articles

Back to top button